Sunday, June 16, 2024
Homeटॉप न्यूज़APJ Abdul Kalam Birth Anniversary: जानें क्यों अब्दुल कलाम कहलाए मिसाइल मैन,...

APJ Abdul Kalam Birth Anniversary: जानें क्यों अब्दुल कलाम कहलाए मिसाइल मैन, क्या थे उनके सिद्धांत

- Advertisement -

India News (इंडिया न्यूज़), APJ Abdul Kalam Birth Anniversary: पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम भले ही इस दुनिया में न हो लेकिन आज भी हर कोई उन्हें याद करता है। इनकी हर एक सीख को बच्चा-बच्चा जानता है और हर कोई उसे अपनाता भी है। एपीजे अब्दुल कलाम की आज बर्थ एनिवर्सरी है। इनका जन्म 15 अक्टूबर 1931 को हुआ था। अगर हम इतिहास के पन्नों को पढ़े तो हमें पता चलेगा कि कैसे कलाम ने अपने जीवन में संघर्षों का सामना किया और लोगों के लिए एक उदाहरण सेट किया।

संघर्षों से भरा रहा कलाम का जीवन

आपको बता दें कि अब्दुल कलाम ने हमेशा अपने जीवन में सीखने को ज्यादा महत्व दिया है उन्हें लगता था कि आप अपने जीवन में हर नई चीज को सीखें। हमें हर दिन कुछ नया और अच्छा सिखना चाहिए। एपीजे अब्दुल कलाम की घर की आर्थिक स्थिति काफी खराब थी जिस कारण वह अखबार बेचते थे. कलाम के पिता भी इतने पढ़े-लिखे नहीं थे।

फिर मिसाइल मैन कहलाए

डॉ अवुल पकिर जैनुलाब्दीन अब्दुल कलाम नाम तो आपने सुना ही होगा, बच्चे जिनको अंकल कलाम कहते थे तो वहीं बड़ों के लिए कलाम साहब थे. कलाम साहब को मिसाइल मैन के नाम से जाना जाता था। इन्होंने साइंस की दुनिया में काफी काम किया है। इनको राजनीतिक गलियारों में पीपुल्स प्रेसिडेंट के तौर पर जाना जाता था। कलाम साहब की लाइफ हर किसी के लिए किसी प्रेरणा से कम नहीं है। इन्होंने अखबार बेचने से लेकर भारत के पहले नागरिक बनने तक का सफर तय किया है।

डॉ. कलाम के दर्शन सिद्धांत

  • जो लोग जिम्मेदार, सरल, ईमानदार और मेहनती होते हैं, उन्हें ईश्वर की ओर से विशेष सम्मान मिलता है. क्योंकि वे इस धरती पर उसकी श्रेष्ठ रचना हैं।
  • किसी के जीवन में उजाला लाओ।
  • दूसरों का आशीर्वाद लो, माता-पिता की हमेशा सेवा करो, बड़ो तथा शिक्षकों का आदर करो, और अपने देश से प्रेम करो, इनके बिना जीवन व्यर्थ है।
  • दान करना या देना सबसे उच्च एवं श्रेष्ठ गुण है, लेकिन उसे पूर्णता देने के लिए उसके साथ क्षमा भी होनी चाहिए।
  • जीवन में कम से कम दो गरीब बच्चों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उनकी शिक्षा में मदद करो।
  • हमेशा सरलता और परिश्रम का मार्ग अपनाओ, जो सफलता का एक मात्र रास्ता है।
  • प्रकृति से सीखो और लोगों को इस बारे में बताओं, प्रकृति में सब कुछ छिपा है।
  • हमें मुस्कराहट का परिधान पहनना चाहिए तथा उसे सुरक्षित रखने के लिए हमारी आत्मा को गुणों का परिधान पहनाना जरूरी है।
  • समय, धैर्य और प्रकृति, सभी प्रकार की मुश्किलों को दूर करने और सभी प्रकार के जख्मों को भरने वाले बेहतर चिकित्सक होते हैं।
  • अपने जीवन में उच्चतम एवं श्रेष्ठ लक्ष्य रखो और उसे ही प्राप्त करो।
  • प्रत्येक क्षण रचनात्मकता का क्षण है, उसे व्यर्थ मत गवाओ।

अब्दुल कलाम ने अक्सर युवाओं को जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। अब्दुल कलाम ने कहा था कि- ‘इससे पहले की सपने सच हों आपको सपने देखने होंगे।’ वहीं उन्होंने यह भी कहा कि मैं युवाओं से यही कहूंगा कि कुछ अलग तरीके से सोचें कुछ अलग करने की कोशिश करें।

ये भी पढ़े-  Navratri 2023: PM के गरबा गीत की सब कर रहे तारीफ,…

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular