Tuesday, July 16, 2024
HomeLok Sabha Election 2024Bhagwant Mann ने BJP पर बोला हमला, कहा- 'ये तानाशाही और अहंकार...

Bhagwant Mann ने BJP पर बोला हमला, कहा- ‘ये तानाशाही और अहंकार में अंधे हो गए हैं लेकिन उनको पता नहीं…’

Bhagwant Mann ने BJP पर बोला हमला, कहा- 'ये तानाशाही और अहंकार में अंधे हो गए हैं लेकिन उनको पता नहीं...'

- Advertisement -

India News HP (इंडिया न्यूज), Bhagwant Mann: लोकसभा चुनाव के बीच नेताओं का आरोप- प्रत्यारोप जारी है। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा यह सरकार देश को तानाशाही की ओर ले जा रहा है। ऐ लोग संविधान बदलने के लिए 400 सीट मांग रहे हैं।  यह चुनाव सिर्फ आम चुनाव नहीं है यह देश की संविधान को बचाने वाला चुनाव है।

भगवंत मान का बीजेपी पर हमला

आप नेता और पंजाब के मुख्यमंत्री मान ने आगे कहा, ‘हमारा देश खतरनाक मोड़ पर खड़ा है और यह चुनाव इसे बचाने का है। देश ऐसे दोराहे पर खड़ा है कि या तो तानाशाही की ओर चला जाएगा या फिर लोकतंत्र से चुनी गई जनता आपकी इच्छा अनुसार काम करेगी। कानून आपकी इच्छा अनुसार बनेंगे। या तो देश उस पार्टी के हाथ में आ जाएगा जो संविधान को खत्म करना चाहता है या फिर उन पार्टियों के हाथ में आ जाएगा जो देश को आगे बढ़ाना चाहते हैं।’

Also Read- Himachal Lok Sabha Election 2024: चार सीटों पर 37 उम्मीदवार मैदान में, इस सीट पर कांटे की टक्कर

बीजेपी वाले तानाशाही और अहंकार में अंधे-भगवंत मान

उन्होंने ये भी कहा, ”बीजेपी वाले तानाशाही और अहंकार में अंधे हो गए हैं लेकिन उनको शायद पता नहीं है कि ये देश किसी के बाप की जागीर नहीं है. ये 140 करोड़ लोगों का देश है. ये लोकतंत्र को बचाने की लड़ाई है. ये संविधान को बचाने की लड़ाई है. बीजेपी के कई नेताओं ने कहा है कि हमें 400 के पार कर दो, हम संविधान बदल देंगे।”

ये बाबा साहेब अंबेडकर का लिखा हुआ संविधान बदल देंगे

सीएम ने यह भी कहा, ”भाजपा के लोग तानाशाही और अहंकार में अंधे हो गए हैं लेकिन शायद उन्हें यह नहीं पता कि यह देश किसी के बाप की जागीर नहीं है। यह देश 140 करोड़ लोगों का है। यह चुनाव लोकतंत्र को बचाने की लड़ाई है। वे बाबा साहेब अम्बेडकर द्वारा लिखित संविधान को बदल देंगे। इसके बाद कोई चुनाव नहीं होगा। जैसा कि रूस में होता है पुतिन वहां चुनाव नहीं कराते। वह किसी भी विपक्षी नेता को अपने खिलाफ खड़ा नहीं होने देते। यही काम यहां भी होने वाला है। यह संघीय ढांचे को नष्ट कर देगा।

Also Read- Himachal Lok Sabha Election: ऊना के इस गांव में मतदान का बहिष्कार, जानें क्या है कारण?

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular