Monday, July 22, 2024
Homeपॉलिटिक्सSatyapal Malik: CBI की छापेमारी पर भड़के पूर्व राज्यपाल, बोले- तानाशाह कर...

Satyapal Malik: CBI की छापेमारी पर भड़के पूर्व राज्यपाल, बोले- तानाशाह कर रहा परेशान

- Advertisement -

India News (इंडिया न्यूज़), Satyapal Malik: CBI जम्मू-कश्मीर में एक जल विद्युत परियोजना का ठेका देने में भ्रष्टाचार की जांच के सिलसिले में जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक से जुड़े परिसरों सहित 30 से अधिक स्थानों पर तलाशी ले रही है। जिसको लेकर राजनीतिक बवाल मचा हुआ है। मामले को लेकर अब पूर्व राज्यपाल सरकार पर भड़कते नजर आ रहे हैं।

CBI के छापे पर भड़के सत्यपाल मलिक

मामले पर जम्मू कश्मीर के पूर्व राज्यपाल ने अपने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर कहा, ‘मैंने भ्रष्टाचार में शामिल जिन व्यक्तियों की शिकायत की थी की उन व्यक्तियों की जांच ना करके मेरे आवास पर CBI द्वारा छापेमारी की गई है।तानाशाह सरकारी एजेंसियों का ग़लत दुरुपयोग करके मुझे डराने की कोशिश कर रहा है। मैं किसान का बेटा हूं, ना में डरूंगा, ना झुकूंगा।

बेवजह परेशान कर रही है सरकार

पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अपने बयान में कहा कि, पिछले 3-4 दिनों से मैं बिमार हूं ओर हस्पताल में भर्ती हूं। जिसके वावजूद मेरे मकान में तानाशाह द्वारा सरकारी एजेंसियों से छापे डलवाएं जा रहें हैं। मेरे ड्राईवर और मेरे साहयक के ऊपर भी छापे मारकर उनको बेवजह परेशान किया जा रहा है।

राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना

वहीं एस मामले में राहुल गांधी ने भी पर सवाल खड़े कर कहा कि, अगर पूर्व गवर्नर सच बोलेंगे तो उनके घर CBI भेज दो क्या ये मदर ऑफ डेमोक्रेसी है?

हाईड्रो प्रोजेक्ट मामले में हो रही है छापेमारी

छापेमारी के लेकर अधिकारियों ने बताया है कि यह मामला किरू हाइड्रो इलेक्ट्रिक पावर प्रोजेक्ट (HEP) के 2,200 करोड़ रुपए के सिविल कार्यों के आवंटन में भ्रष्टाचार से संबंधित है। किरू परियोजना, किश्तवाड़ जिले में चिनाब नदी पर एक रन-ऑफ-रिवर योजना है। CBI ने चल रही जांच के तहत पिछले महीने दिल्ली और जम्मू-कश्मीर में लगभग आठ स्थानों पर तलाशी ली थी। सीबीआई ने 21 लाख रुपए से अधिक की नकदी के अलावा डिजिटल उपकरण, कंप्यूटर, संपत्ति दस्तावेज और आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए थे। CBI की ओर से बताया गया कि यह मामला एक निजी कंपनी CVPPPL के तत्कालीन अध्यक्ष, एमडी और निदेशकों और अज्ञात अन्य लोगों के खिलाफ जम्मू-कश्मीर सरकार से प्राप्त एक संदर्भ के आधार पर दर्ज किया गया था।

ये भी पढ़ें-Avalanche in Gulmarg: गुलमार्ग में हिमस्खलन का हाहाकार, 1 विदेशी की…

ये भी पढ़ें-Sugarcane FRP: किसान आंदोलन के बीच मोदी सरकार ने दी बड़ी…

ये भी पढ़ें-Holi Tips: इस होली अपनाएं ये उपाय, मिलेगा हर बीमारी से छुटकारा

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular