Tuesday, July 16, 2024
HomeTrendingLieutenant Inayat Vats: 20 साल पहले शहीद हुए पिता..अब बेटी ने निभाया...

Lieutenant Inayat Vats: 20 साल पहले शहीद हुए पिता..अब बेटी ने निभाया फर्ज, सेना में हुई शामिल

- Advertisement -

India News Himachal (इंडिया न्यूज), Lieutenant Inayat Vats: लेफ्टिनेंट इनायत वत्स जिनके पिता मेजर नवनीत वत्स 20 साल पहले देश के लिए जम्मू-कश्मीर में शहीद हो गए थे। अब एक बेटी का फर्ज निभाने सेना में शामिल हो गईं हैं। पासिंग आउट परेड में, लेफ्टिनेंट इनायत वत्स ने वही जैतूनी हरे रंग की वर्दी पहनी थी जो उनके पिता पहना करते थे।

पिता की वर्दी पहन हुईं सेना में शामिल

चेन्नई में ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी में प्रशिक्षण लेने के बाद लेफ्टिनेंट इनायत वत्स को सैन्य खुफिया कोर में लेफ्टिनेंट के रूप में नियुक्त किया गया। आर्मी ट्रेनिंग कमांड, इंडियन आर्मी ने अपने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर लेफ्टिनेंट इनायत वत्स का इंडियन आर्मी में स्वागत करते हुए कहा, ‘इनायत मुश्किल से तीन साल की थीं, जब उन्होंने एक उग्रवाद विरोधी ऑपरेशन में अपने पिता मेजर नवनीत वत्स को खो दिया था। दो दशक से भी अधिक समय के बाद, वह भारतीयसेना में शामिल हुईं और वही वर्दी पहनी जो कभी उनके हीरो डेड पहना करते थे। आपका स्वागत है, सेना की बेटी लेफ्टिनेंट इनायत वत्स।’

देश के लिए शहीद हुए थे मेजर नवनीत वत्स

मेजर नवनीत वत्स चंडीगढ़ के रहने वाले थे। उन्हें 3 गोरखा राइफल्स रेजिमेंट की चौथी बटालियन में नियुक्त किया गया था। नवंबर 2003 में श्रीनगर में एक आतंकवाद विरोधी अभियान में वे शहीद हो गए। उनकी बहादुरी और सर्वोच्च बलिदान के लिए उन्हें वीरता पुरस्कार, “सेना मेडल” दिया गया।

OTA चेन्नई में पूरी की ट्रेनिंग 

इनायत वत्स दिल्ली यूनिवर्सिटी के लेडी श्रीराम कॉलेज से ग्रेजुएट हैं। अप्रैल 2023 में चेन्नई में ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी में शामिल होने से पहले वह दिल्ली विश्वविद्यालय के हिंदू कॉलेज में राजनीति विज्ञान में मास्टर डिग्री की पढ़ाई कर रही थीं।

ये भी पढ़ें-Breast Cancer: महिलाओं में सबसे ज्यादा पाया जाता है ये…

ये भी पढ़ें- Himachal Politics: CM सुक्खू पर बागी विधायकों का तीखा हमला, मौजूदा…

ये भी पढ़ें-Weight Loss Tips: वजन घटाने में मददगार हैं ये योगा पोज,…

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular