Tuesday, May 28, 2024
Homeहिमाचल प्रदेशCorruption: चंद रुपयों के लिए फसा ASI, होगी बड़ी कार्रवाई

Corruption: चंद रुपयों के लिए फसा ASI, होगी बड़ी कार्रवाई

Corruption : हिमाचल प्रदेश में एक ASI को 3000 रूपए रिश्वत लेते हुए, स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने रंगे हाथों पकड़ लिया

- Advertisement -

India News Himachal (इंडिया न्यूज़), Corruption: हिमाचल प्रदेश में एक ASI को 3000 रूपए रिश्वत लेते हुए, स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने रंगे हाथों पकड़ लिया। पुलिस कर्मी हरोली थाना में तैनात था। आरोपी एएसआई के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मुकदमा दर्ज करते हुए, इस केस की जांच शुरू कर दी है।

विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो का कड़क एक्शन

ऊना क्षेत्र में स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम हरोली थाना में तैनात एएसआई निर्मल पटियाल को रिश्वत लेते हुए रांगेय हाथ पकड़ लिया था। यह कार्रवाई डीएसपी विजिलेंस कुलविंदर सिंह की मौजूदगी में हुई है। अब एएसआई निर्मल के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

केस के दौरान मांगी रिश्वत (Corruption)

बताया जा रहा है कि दो लोगों के बीच मारपीट हुई थी, जिसके बाद इस केस को रफा दफा करने के लिए, एएसआई ने 3000 रुपय की मांग की थी। इस मामले पर विजिलेंस को शिकायत दी गई थी। जब दो लोगों के बीच मार पीट का मामला दर्ज किया गया था, तब निर्मल पटियाल ने इस केस को सुलझाने के 3000 रूपए डिमांड किये थे।

विजिलेंस टीम ने की थी प्लानिंग

इसी मामले में उन्होंने समझौता करने की पेशकश की तो आरोपी सहायक उप निरीक्षक निर्मल पटियाल ने 3000 रुपये की डिमांड कर दी, पुलिस अधिकारी द्वारा पैसे मांगे जाने पर पीड़ित ने स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो ऊना को मामले की जानकारी दी। शिकायत मिलने पर विजिलेंस टीम ने एक प्लानिंग की और आरोपी अधिकारी को पकड़ने के लिए प्लान बनाया गया। प्लान के मुताबित, रविवार रात पीड़ित युवक विजिलेंस के दिए गए नोट लेकर एएसआई के पास पहुंचा और उसने वह राशि एएसआई को दे दी। लेकिन इसके तुरंत बाद विजिलेंस की टीम ने हरोली थाने में पहुंच कर आरोपी को रंगे हाथ पकड़ा। अब आरोपी के खिलाफ कड़ी करवाई की जाएगी।

Also Read :

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular